Type Here to Get Search Results !

डाटा एंट्री क्या है? what is data entry in hindi. डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बनें?

0
हेलो दोस्तों तो कैसे हैं, आप लोग। हमारे आर्टिकल पर आपका स्वागत है। अगर आप एक डाटा एंट्री ऑपरेटर है, या फिर डाटा एंट्री ऑपरेटर बनना चाहते हैं, तो आप यह आर्टिकल आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होने वाला है। अगर आप एक स्टूडेंट हैं, तो फिर आपने डाटा एंट्री ऑपरेटर (data entry operator) के बारे में जरूर सुना होगा। क्योंकि इस टेक्नोलॉजी के समय में offline हो या फिर online दोनों जगह पर डाटा एंट्री (Data Entry) का कार्य किया जाता है। लेकिन फिर भी बहुत सारे लोगों को यह पता नहीं होता है, कि डाटा एंट्री क्या होती है। और डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बनते हैं। 
अगर आपको भी डाटा एंट्री के बारे में पता नहीं है, और आप डाटा एंट्री के बारे में जानना जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो हम आपको इस आर्टिकल में डाटा एंट्री क्या है, और डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बने, की जानकारी देने वाले हैं। तो चलिए बिना देर किए शुरू करते हैं।

डाटा एंट्री क्या है। (what is data entry in hindi)-

जिस तरह से किसी टाइपिस्ट का काम कंप्यूटर में डाटा टाइप करना होता है, उसी प्रकार कंप्यूटर प्रोग्राम में text, number, image, file, document के रूप में विभिन्न प्रकार के डाटा को टाइप करना डाटा एंट्री कहलाता है। तथा जो लोग कंप्यूटर पर डाटा इनपुट या data entry करने का कार्य करते हैं, उन्हें Data Entry Operator कहा जाता है। कंप्यूटर में डाटा एंट्री करने के लिए वह कीबोर्ड, स्कैनर, बारकोड रीडर, ओएमआर स्कैनर, आदि का उपयोग करते हैं। तथा इसके अलावा कुछ डाटा को देखकर या ट्रांसलेट करके भी टाइप किया जाता है। डाटा एंट्री करने के लिए आपको कंप्यूटर में दिए गए डाटा को टाइप करना होता है, उसे एक जानकारी के तौर पर कंप्यूटर में स्टोर या सेव करना होता है।
डाटा एंट्री करने और डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिए आपको किसी विशेष डिग्री या योग्यता की आवश्यकता नहीं होती है। अगर आपको कंप्यूटर की अच्छी जानकारी है, तो भी आप कंप्यूटर में डाटा एंट्री कर सकते हैं।

कंप्यूटर में डाटा एंट्री कैसे करे?


कंप्यूटर की लैंग्वेज में हर उस डाटा को एंट्री कहा जाता है, जो आप कीबोर्ड की सहायता से टाइप करते हैं। जैसे अगर कीबोर्ड पर आपके द्वारा कुछ शब्द टाइप किए जाते हैं, तो उसे डांटा कहते हैं इसी तरह अगर कोई iamge, video कंप्यूटर पर अपलोड करते हैं, तो उसे भी डाटा कहते हैं। इस डाटा को कंप्यूटर में Enter या Save करने पर इसे Data Entry कहा जाता है। आप कंप्यूटर पर दो तरह से डाटा एंट्री कर सकते हैं। Online और Offline
Online Data Entry - online data entry मैं आप घर बैठे वर्क कर सकते हैं। कुछ fiber, freelancer तथा ऐसी बहुत सारी वेबसाइट होती है, जहां पर आपको डाटा एंट्री का काम मिल जाता है। आपको यहां पर अकाउंट बनाना होता है, और यह बताना होता है, आप किस तरह का डाटा एंट्री का काम करते हैं। और जब आपको काम मिल जाता है, तो आपको इस वेबसाइट के द्वारा दिया गया डाटा की online data entry करना होती है। 

Offline Data Entry - offline data entry आप घर बैठे आसानी से कर सकते हैं। इसके लिए डाटा एंट्री सीख कर किसी भी कंपनी में जॉब कर सकते हैं। और अपना काम शुरू कर सकते हैं। फिर कंपनी द्वारा आपको जो Data, File, Document दिया जाता है, उसकी एंट्री आपको कंप्यूटर में करना होती है। इसके अलावा भी बहुत सारे ऑफलाइन काम होते हैं। या किसी कंपनी से जुड़कर ऑफलाइन डाटा एंट्री कर सकते हैं।

Update Data in Data Base - किसी कंपनी के सिस्टम या सर्वर के डेटाबेस में डाटा को अपडेट करने के लिए डाटा एंट्री कार्य की आवश्यकता होती है। इसमें कंपनी द्वारा आपको डाटा एंट्री करने के लिए डेटाबेस अपडेट कार्य को समझा दिया जाता है। जिससे आप आसानी से डाटा एंट्री कर सकते हैं। परंतु इस कार्य को करने के लिए आपको टेक्नोलॉजी से जुड़ी जानकारी होना आवश्यक है।

Paper Document - यह डाटा एंट्री के सबसे सरल कार्यों में से एक होता है। इसके लिए आपको किसी खास जानकारी की आवश्यकता नहीं होती है। आपको केवल पेपर (हार्ड कॉपी) पर लिखी जानकारी या डाटा को कंप्यूटर पर टाइप करना होता है।

डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बने।


डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिए आपको किसी विशेष डिग्री या योग्यता की आवश्यकता नहीं होती है। अगर आप 10वीं या 12वीं पास है, तो भी आप डाटा एंट्री ऑपरेटर बन सकते हैं। इसके लिए आपको कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होना चाहिए। तथा ms word, ms excel के बारे में जानकारी या इनका उपयोग कैसे किया जाता है, यह पता होना चाहिए।

(•) कंप्यूटर की जानकारी - अगर आप एक डाटा एंट्री ऑपरेटर (data entry operator) बनना चाहते हैं, तो फिर आपको कंप्यूटर का ज्ञान और इसकी बेसिक जानकारियों के बारे में पता होना बहुत जरूरी है। इसमें आपको टाइपिंग के अलावा ms word, excel का उपयोग कैसे किया जाता है, यह भी पता होना चाहिए। तथा स्कैन करना, मेल कैसे भेजे इसकी भी जानकारी होना चाहिए।

(•) शौक्षिक योग्यता होना -  आपको डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिए किसी डिग्री या डिप्लोमा की आवश्यकता नहीं होती है। आप 10वीं या 12वीं पास हो तो भी डाटा एंट्री ऑपरेटर बन सकते हैं। लेकिन इसके कुछ कंपनियों में स्नातक भी अनिवार्य होता है। यह कंपनी पर निर्भर करता है, कि वहां पर डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिए किस प्रकार की education qualifications होना जरूरी है। और आप किस डाटा एंट्री ऑपरेटर पद के लिए आवेदन कर रहे हैं।

(•) टाइपिंग स्पीड का बेहतर होना - अगर आप एक डाटा एंट्री ऑपरेटर बनना चाहते हैं, तो फिर आपकी टाइपिंग स्पीड का फास्ट और बेहतर होना बहुत जरूरी है। आपकी हिंदी और इंग्लिश टाइपिंग स्पीड बहुत अच्छी होना चाहिए। क्योंकि ज्यादातर कंपनियां ऐसे डाटा एंट्री ऑपरेटर की तलाश में रहती है, जो उनके कार्य को कम समय में तथा तेजी के साथ पूरा कर सकें।

(•) भाषा की जानकारी होना - डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिए आपकी हिंदी और इंग्लिश दोनों लैंग्वेज बेहतर होना चाहिए। हिंदी को सभी आसानी से तथा सही से पढ़ लेते हैं। लेकिन इंग्लिश लैंग्वेज में बहुत सारे लोगों को दिक्कत होती है। कुछ कंपनियां होती है, जो आपकी इंग्लिश कम्युनिकेशन योग्यता को देखती है। आज बहुत सारी कंपनियों में अंग्रेजी भाषा का उपयोग किया जाता है, इसलिए आपकी अंग्रेजी भी अच्छी है तो यह आपके लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकती है। लेकिन दोस्तों ऐसा नहीं है, कि आपकी अंग्रेजी अच्छी हो तभी आप डाटा एंट्री ऑपरेटर बन सकते हैं। अगर आपकी अंग्रेजी अच्छी नहीं है, तो भी आप डाटा एंट्री ऑपरेटर बन सकते हैं।
दोस्तों यह थी, डाटा एंट्री और डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बनें इसके बारे में जानकारी। हमें उम्मीद है, आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी।

Conclusion -

हमने आपको Data Entry किसे कहते है। और यह क्या है। इसके उपयोग के बारे में आपको पूरी जानकारी दी है। और डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बने। इसके बारे में भी पूरी जानकारी दी है। में आशा करता हूं आपकी हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी।

ओर यदि आपको हमारी पोस्ट डाटा एंट्री क्या है। हिंदी में अच्छी लगी हो, ओर आपको इससे कुछ सीखने का मिला हो तो हमे comments करके आप जरूर बताए। ओर इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ whatsapp group , facebook ओर अन्य social networks site's पर शेयर करे और इस जानकारी को अन्य लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे।

अभी के लिए बस इतना ही। कल फिर मिलते है, एक ओर नई जानकारी के साथ। हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद। आपका दिन शुभ हो।

Post a Comment

0 Comments

Link Buildings

Link Buildings
Read Now

SEO Tips

SEO Tips
Read Now

Social Media

Social Media
Read Now

Email Marketing

Email Marketing
Read Now

Checklist To-do

Checklist To-do
Read Now

YouTube Channel

YouTube Channel
Subscribe Now