हमारी new video देखे

Tuesday, 27 July 2021

Network Interface Card (NIC) क्या है। इसके उपयोग और फायदे। in hindi.

हैलो दोस्तों तो कैसे हैं, आप लोग। क्या आपको पता है नेटवर्क इंटरफेस कार्ड किसे कहते हैं और यह कितने प्रकार के होते हैं। अगर आपको Network Interface Card के बारे में कुछ पता नहीं है तो कोई बात नहीं हम आज आपको इस पोस्ट में के बारे में जानकारी देंगे।

नेटवर्क इंटरफेस कार्ड को NIC(Network Interface Card) या नेटवर्क कार्ड के नाम से जाना जाता है। यह एक प्रकार की सर्किट बोर्ड या चीप होती है। जो नेटवर्क की सहायता से दो कंप्यूटर के बीच कम्युनिकेशन स्थापित करने का कार्य करती है।NIC का उपयोग लोकल एरिया या वाइड एरिया नेटवर्क में होता है। तथा इस बोर्ड को Install करने के बाद रिसोर्स इंफॉर्मेशन या कंप्यूटर Hardware को नेटवर्क पर शेयर कर सकते हैं। अगर आप भी NIC के बारे में जानकारी पाना चाहते हैं तो हमारी इस पोस्ट को शुरू से अंत तक पढ़ते रहिए। जिससे आपको भी NIC के बारे में बहुत कुछ जानकारी हो जाएगी। तो चलिए अब बिना देर किए शुरू करते हैं नेटवर्क इंटरफेस कार्ड क्या है।

Network Interface Card क्या है। (what is Network Interface Card In Hindi) -

Network Interface Card kise kahte hai
NIC (Network Interface Card) एक Hardware घटक होता है। जिसके बिना किसी भी कंप्यूटर को नेटवर्क से नहीं जोड़ा जा सकता है।
Network Interface Card kya  hai
कंप्यूटर सिस्टम में motherboard पर NIC को पीसीआई एक्सपेशन स्लॉट (PCI Expansion Slot) पर लगाया जाता है। यह कंप्यूटर में install एक सर्किट बोर्ड होता है जो कंप्यूटर को नेटवर्क कनेक्शन प्रदान करने का कार्य करता है। कम्युनिकेशन (Communication) के माध्यम के द्वारा तथा नेटवर्क इंटरफेस कार्ड की सहायता से ही एक कंप्यूटर दूसरे कंप्यूटर से कम्युनिकेट करने में सक्षम होते हैं। यदि हम वायरलेस नेटवर्क को उपयोग नहीं करते हैं तो एक NIC से दूसरे NIC के बीच नेटवर्क लाने के लिए दोनों NIC को आपस में जोड़ना पड़ता है। तथा इसके लिए हमें केबल की आवश्यकता होती है। NIC को अन्य नामों से भी जाना जाता है। जैसे- नेटवर्क इंटरफेस कंट्रोलर, नेटवर्क एडॉप्टर, इथरनेट या लेन एडॉप्टर आदि।
NIC को पहले ISA स्लॉट पर लगाया जाता था। तथा अभी भी कुछ कंप्यूटर में ISA Compatible NIC देखने को मिल जाते हैं। लेकिन अब ISA स्टैंडर्ड स्लॉट मदरबोर्ड पर लगना बंद कर दिए गए है। जिससे आज बनने वाले सभी NIC मैं PCI स्लॉट का ही उपयोग किया जाता है। आज के समय में ईथरनेट स्टैंडर्ड की लोकप्रियता और कम लागत के कारण नए कंप्यूटर में नेटवर्क इंटरफेस कार्ड को सीधे मदरबोर्ड में निर्मित किया जाता है। अब आपको पता चल गया है नेटवर्क इंटरफेस कार्ड क्या है अब हम इसके प्रकारों के बारे में जानेंगे।

नेटवर्क इंटरफेस कार्ड के प्रकार (types of Network Interface Card ) -

नेटवर्क इंटरफेस कार्ड के दो प्रकार होते हैं।
(●) Internal Network Card -
Internal Network Card मैं मदरबोर्ड के अंदर नेटवर्क कार्ड के लिए एक स्लॉट लगा होता है। जहां से नेटवर्क कार्ड को डाला जाता है। तथा इसके लिए एक नेटवर्क केबल की आवश्यकता होती है। ताकि नेटवर्क को पहुंचाया जा। Internal Network Card भी दो प्रकार के होते है।

Peripheral Component Inter connect (PCI) तथा दूसरा Peripheral Standard Architecture (ISA)
■ PCI (peripheral component) - PCI को PCI या PCI-E भी कहा जाता है। यह एक प्रकार serial expansion bus स्टैण्डर्ड है। जिसका उपयोग कंप्यूटर को एक या एक से ज्यादा पेरीफेरल डिवाइसो को एक साथ जोड़ने के लिए किया जाता है। इसे intel द्वारा लांच किया गया था। तथा PCI bus का उपयोग CPU तथा expansion boards जैसे - मॉडेम कार्ड्स, नेटवर्क कार्ड्स, वीडियो कार्ड्स तथा साउंड कार्ड्स को जोड़ने के लिए किया जाता है।
■ Industry Standard Architecture (ISA) -
ISA एक computer bus specification है। जिसका उपयोग 8 बिट IBM-compatible systems के लिए किया जाता है। ISA bus peripheral devices के लिए एक original route प्रदान करता है। जो एक ही मदरबोर्ड से विभिन्न सर्किट या उपकरणों के साथ संचार करने के लिए मदरबोर्ड से जुड़े हुए होते हैं।
(●) External Network Card -
वह लैपटॉप या डेक्सटॉप जिनके पास आंतरिक NIC नहीं है वहां पर बाहरी NIC का उपयोग किया जाता है। यह भी दो प्रकार के होते हैं। वायरलेस और USB आधारित वायरलेस नेटवर्क कार्ड को मदरबोर्ड में डालने की आवश्यकता होती है। हालांकि इसमें नेटवर्क से कनेक्ट करने के लिए किसी नेटवर्क केबल की आवश्यकता नहीं होती है। यह ट्रैवल करते समय या वायरलेस सिग्नल एक्सेस करते समय उपयोगी होती है।

NIC का मतलब क्या होता है। -

NIC एक प्रकार का घटक होता है। जो कंप्यूटर के लिए नेटवर्किंग क्षमता प्रदान करता है। यह स्थानीय नेटवर्क के लिए वायर्ड कनेक्शन या वायरलेस कनेक्शन को कनेक्ट करने में से सक्षम होता है। अधिकांश NIC मदरबोर्ड पर एक PCI स्लॉट स्थापित किए जाते हैं। तथा प्रारंभिक NIC नेटवर्क कनेक्शन के लिए BNC कनेक्टर शामिल था। आज के समय में वायरलेस NIC वाई-फाई कनेक्शन के लिए डिजाइन किए जाते हैं। तथा बेहतर वायरलेस रिसेप्शन प्रदान करने के लिए एक एंटीना होता है। पुराने वायरलेस कार्ड में PCI कनेक्शन होते हैं। तथा जबकि आधुनिक वायरलेस NIC एक PCI एस्पेस स्लॉट से जुड़े होते हैं।

नेटवर्क इंटरफेस कार्ड के घटक (Components Of Network Interface Card ) -

नेटवर्क इंटरफ़ेस कार्ड के निम्न घटक है।
(●) Speed - सभी NIC में Mbps के संदर्भ में स्पीड रेटिंग होती है। जो कंप्यूटर के नेटवर्क में पर्याप्त बैंडविड्थ के साथ क्रियान्वित होने पर कार्ड के सामान्य प्रदर्शन का सुझाव देती है। यदि बैंडविड्थ NIC से कम है या कई कंप्यूटर एक ही कंट्रोलर से जुड़े हुए हैं तो यह लेबल की गति को धीमा कर देती है।
(●) Router - Router को कभी-कभी कंप्यूटर और अन्य उपकरणों के बीच communication की अनुमति देने की भी आवश्यकता होती है। यहां पर राऊटर NIC से कनेक्ट होता है। जो इंटरनेट से जुड़ा होता है।
(●) Driver - यह बहुत आवश्यक या important Software होता है जो कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम और NIC के बीच Data का आदान प्रदान करता है।
(●) MAC Address - यह एक यूनिक मैक ऐड्रेस जिसे फिजिकल ऐड्रेस के रूप में भी जाना जाता है। इसे NIC को सौंपा जाता है। जो पर इथरनेट पैकेट वितरित करने के लिए उपयोग किया जाता है।
(●) Connectivity LED - अधिकांश NIC मैं LED इंडिकेटर होता है। जो नेटवर्क से कनेक्ट होने पर डाटा प्रसारित होने पर यूजर को सूचित करने के लिए कनेक्टर में एकीकृत होता है।

NIC के फायदे -

(●) NIC की सहायता से वायर्ड और वायरलेस दोनों प्रकार के communication किए जा सकते हैं।
(●) NIC फिजिकल लेयर और डाटा लिंक लेयर दोनों है।
(●) NIC लोकल एरिया नेटवर्क के साथ-साथ इंटरनेट protocol के माध्यम से बड़े पैमाने पर कंप्यूटर के बीच कम्युनिकेशन की अनुमति देता है।

NIC Computer में कहा पर स्थित होता है। -

डेस्कटॉप कंप्यूटर में USB पोर्ट के पास सबसे अधिक बार नेटवर्क कार्ड स्थित होता है। तथा लैपटॉप में नेटवर्क कार्ड को मदरबोर्ड के साथ जोड़ा जाता है। नेटवर्क पोर्ट जहां आप नेटवर्क केबल में प्लग करते हैं। लेकिन यह ज्यादातर लैपटॉप की साइड में स्थित होता है। और अगर यदि आपको अपने लैपटॉप में नेटवर्क पोर्ट दिखाई नहीं देता है तो यह वायरलेस नेटवर्क हो सकता है। तथा हम लैपटॉप के लिए अलग से भी नेटवर्क कार्ड खरीद सकते हैं। जो उपलब्ध होने पर लैपटॉप की तरह pc card स्लॉट में install होता है।

Conclusion

आज इस पोस्ट में हमने आपको Network Interface Card किसे कहते है। तथा इसका उपयोग कहा होता है। ओर ये कितने प्रकार के होते है। इसके बारे में आपको पूरी जानकारी दी है। में आशा करता हु की आप लोगो को Network interface Card किसे कहते है। इसके बारे में अच्छे से समझ आया होगा। अगर यदि आपको अभी भी इस पोस्ट को लेकर कुछ डाउट्स है या आप हमारी इस पोस्ट से असंतुष्ट है। या फिर हमारी इस पोस्ट में कुछ सुधार करने की जरूरत है या इस पोस्ट से जुड़ा कोई भी सवाल आपके मन मे है तो आप हमे नीचे comments करके जरूर बताये।

ओर यदि आपको हमारी पोस्ट Network Interface Card किसे कहते है। हिंदी में अच्छी लगी हो ओर आपको इससे कुछ सीखने का मिला हो तो हमे comments करके आप जरूर बताए।ओर इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ whatsapp group , facebook ओर अन्य social networks site's पर शेयर करे और इस जानकारी को अन्य लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे।

अभी के लिए बस इतना ही। हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद। आपका दिन शुभ हो।

No comments:

Post a Comment