हमारी new video देखे

Friday, 6 March 2020

Mouse क्या है कंप्यूटर में mouse का उपयोग कैसे किया जाता है

हैलो दोस्तो अगर आप एक computer user है तो फिर आपको mouse  बारे में जरूर पता होगा। यह क्या है और computer में इसका उपयोग कैसे किया जाता है। आज कल हर व्यक्ति ऑफिस, स्कूल, कंपनी, घर पर computer का उपयोग करता है। तब तो जाहिर सी बात है उन्होंने mouse का इस्तमाल तो किया ही होगा। अगर आप भी एक computer user है तो आपको भी पता होगा mouse का उपयोग कहा किया जाता है।
Computer system में इनपुट ओर आउटपुट देने की लिए  devices  का उपयोग किया जाता है। हमे पता है हमारा computer system इनपुट ओर आउटपुट डिवाइस से मिलकर बना होता है। ये डिवाइस मॉनिटर, कीबोर्ड, स्क्रीन, स्पीकर, ओर mouse होते है।       computer system में मॉनिटर, की-बोर्ड, स्पीकर होने के बावजूद mouse ने अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है। यह computer system में स्क्रीन पर सभी चीजों को  नियंत्रित करने का कार्य करता है।
mouse kya hai
जिस प्रकार हम बाहरी दुनिया में वस्तुओं को उठाने, सरकाने, ओर उन्हें पकड़ने का काम हाथों के द्वारा करते है। उसी प्रकार कंप्यूटर में अगर हमे ये काम करना हो तो हम कैसे करेंगें। क्यों कि computer के पास हाथ नहीं होते है। जो यह काम कर देगा। लेकिन अगर हम यह कहे कि computer के पास भी हाथ होते है तो यह गलत नही होगा। जी हा computer के उस हाथ को हम mouse के नाम से जानते है। एक इंसान जो काम अपने हाथों से करता है वही काम कंप्यूटर में mouse की सहायता से किया जाता है।

Computer को operate करने के लिए सबसे ज्यादा कोई जरूरी चीज है तो वह mouse है । क्यूंकि computer स्क्रीन पर जितनी भी गतिविधिया  होती है उन सब को mouse की सहायता से ही नियंत्रित किया जाता हैं।
  आज हम इस पोस्ट में आपको mouse के बारे में जानकारी देंगे। यह क्या है। इसके कितने प्रकार है तथा इसका क्या कार्य है। इसलिए आप इस पोस्ट को अंत तक पड़ते रहिये । जिससे आपको भी mouse के बारे में काफी जानकारी हो जाएगी। तो चलिए अब बिना देर किए शुरू करते है mouse क्या है।

Mouse क्या है (what is mouse in hindi) -

Mouse एक इनपुट डिवाइस है जिसका वास्तविक नाम pointing device है। mouse का उपयोग मुख्य रूप से computer स्क्रीन पर item को चुनने ओर उन्हें बन्द करने के लिए किया जाता है। mouse के उपयोग द्वारा कोई user computer को कोई कार्य करने के लिए आदेश या निर्देश देता है। जिसे हम इनपुट देना कहते है। और computer इन इनपुट पर प्रोसेस या एक्शन कर हमें परिणाम देता है। जिन्हें हम आउटपुट कहते है।
mouse kya hai
Mouse की सहायता से user computer स्क्रीन पर कहीं भी पहुच सकता है। यह सब काम कर्सर के द्वारा किया जाता है। mouse की सहायता से हम कर्सर को जिस तरफ भी मूव करना चाहते है। वह उस तरह मूव हो जाता है। mouse के अलग-अलग models होते है। ये विभिन्न प्रकार के होते है। इन सब में अलग-अलग features ओर connectivity होते है। लेकिन अधिकत्तर mouse के सभी मॉडल में दो mouse buttons ओर एक scroll wheel होता है।
एक साधारण mouse में आम तौर पर तीन बटन होते है। पहला तथा दूसरा बटन क्रमशः primary बटन होते है। इन primary बटन को Left button तथा secondary बटन को Right button के नाम से जाना जाता है। इनको हम आम भाषा मे Right click तथा Left click कहते है। mouse में जो तीसरा बटन होता है उसे scroll wheel या फिरकी कहते हैं। लेकिन आज के समय मे आधुनिक mouse में तीन से ज्यादा बटन आने लग गए है। जिनका कार्य अलग होता है।

Mouse का आविष्कार। -

duniya ka pahla mouse
mouse को originally X-Y position indicator कहा जाता है। जिसे Display System में इस्तेमाल किया जाता है। computer mouse का आविष्कार दृतिय विश्व युद्ध के सैनिक Douglas C. Englburt द्वारा 1968 में किया गया था। यह उस समय Xerox PARC में काम किया करते थे।

Computer mouse के विभिन्न प्रकार (computer mouse types in hindi) -

Computer mouse ने अपना सफर कई चरणों मे पूरा किया है। इस दौरान समय के साथ अलग -अलग रूप में mouse का विकास किया गया है। हम mouse को मुख्य पाँच भागों में बांट सकते है।
Mechanical mouse , optical mouse, wireless mouse, Trackball mouse, Styles mouse आदि।

(1) Mechanical mouse -
Mechanical mouse का आविष्कार 1972 में Bill English ने किया था। इसे बॉल mouse भी कहा जाता है। इसमें बहुत सारे rollers होते है। Mechanical mouse निर्देशो के movement को track करने के लिए इस बॉल का उपयोग करते है। इस बॉल को दाए-बाएं ओर ऊपर - नीचे घुमाया जा सकता है। इस तरह के mouse typically corded variety के होते है। ओर यह mouse optical mouse की तरह ज्यादा पॉपुलर नहीं होते है। इनकी performance बहुत ही ज्यादा high होती है।

(2) Optical mouse -
Optical mouse optical electronics का इस्तेमाल करती है। यह digital processing तकनीक पर कार्य करता है। इस mouse में बॉल का उपयोग नहीं किया जाता है। इसकी जगह पर एक छोटा सा बल्ब लगा होता है। इस mouse की position ओर movement को track करने के लिए इन्हें standard mechanical mice का दर्जा मिला है। क्यूंकि की ये दूसरे mouse की तुलना में ज्यादा reliable होते हैं। इस mouse को हिलाने से पॉइंटर हलचल करता है। तथा इसमें मौजूद बटन के द्वारा हम computer को निर्देश देते है। इन्हें कम maintenance की जरूरत होती है। आजकल इसी तरह के mouse का उपयोग किया जा रहा है। यह mouse इस्तमाल में भी आसान होते है।

(3) Wireless Mouse -
एक Wireless mouse उस mouse को कहते है जिसमें कोई केबल नही होती है। यह बिना तार का mouse होता है। ये mouse computer से कनेक्ट होने के लिए तथा data transfer करने के लिए Wireless technology का इस्तेमाल करते है। इन्हें Cordless mouse भी कहते है।

यह mouse उस जगह पर अच्छे होते है जहाँ पर हमें cord या cable से परेशानी होती है। यह mouse Radiofrequency तकनीक पर आधारित होते है। इन mouse की बनावट optical mouse की तरह ही होती है। इस mouse का उपयोग करने के लिए Receiver की तथा ट्रांसमीटर की आवश्यकता होती है। हमे Receiver अलग बनाना पड़ता है तथा ट्रांसमीटर पहले से mouse में बना होता है। इस mouse को operate करने के लिए Batteries की जरुरत होती है।

(4) Trackball mouse -
इस mouse को नियंत्रित करने के लिए ट्रैकबॉल का उपयोग किया जाता है। इनकी बनावट optical mouse की तरह होती है। इस mouse के द्वारा computer को निर्देश देने के लिए हमें अपनी उंगलियों या अंगूठे से ball को घुमाना पड़ता है। इस mouse को चलाने में ज्यादा समय लगता है तथा यह हमें ज्यादा नियंत्रण प्रदान नही करता है।

(5) Styles mouse -
इस mouse का आविष्कार Gordan Stewart ने किया था। यह माउस एक पेन की तरह दिखाई देता है। जिसमे एक पहिया होता हे। इस पहिये को ऊपर- नीचे सरकाया जाता है। इस mouse को हम Gstick mouse भी कहते है। Touchscreen डिवाइस में इस mouse का उपयोग ज्यादत्तर किया जाता है।

Mouse द्वारा होने वाले कार्य(Functions of mouse in hindi) -

Mouse का कार्य computer में उसी प्रकार होता है जिस तरह इंसान द्वारा किसी चीज़ को उठाने, सरकाने, ओर पकड़ने में किया जाता है। mouse द्वारा computer में यही कार्य किया जाता है। mouse की सहायता से computer स्क्रीन पर item को उठाने ,सरकाने ओर पकड़ने में किया जाता है। इन सब कार्यो को mouse की क्रियाओं द्वारा किया जाता है। या हम यह कह सकते है कि इन सब कार्यो को mouse के बटन की सहायता से करते है। तो चलिए अब जानते है। mouse के क्या कार्य है।

(1) pointing-  जब cursor को computer स्क्रीन पर किसी item की ओर ले जाया जाता है और pointing जब उस item को छूता है या उसे click करता है तो वहाँ पर एक बॉक्स दिखाई देता है। जो हमे उस item के बारे में जानकारी देता है। इस संपूर्ण क्रिया को pointer कहते है। इसे Hovering के नाम से भी जाना जाता है।

(2) Selecting-  mouse का उपयोग text को सेलेक्ट करने के लिए, highlight करने के लिए किया जाता है। computer स्क्रीन पर जब किसी item पर पॉइंटिंग करने के बाद Lift button के द्वारा click करने पर वह item select हो जाएगा। इसे ही selecting कहा जाता है। जब कोई item सेलेक्ट होती है तो उसके चारों तरफ़ एक आकृति बन जाती है। जिससे हमें पता चलता है की item सेलेक्ट हो गया है।

(3) Clicking- mouse के बटन को दबाने की क्रियाओं को clicking कहा जाता है। clicking भी दो प्रकार की होती है।

★Right Click- mouse की सहायता से किसी item पर Right बटन को दबाना Right Click कहलाता है। जब किसी item पर Right Click किया जाता है तो उसके साथ किये जाने वाले कार्यों की list open हो जाती है।

★Left Click- mouse के Left बटन को दबाना Left Click कहलाता है। यह भी निम्न प्रकार के होते है।
●Single Click- mouse के Left बटन को एक बार दबा कर छोड़ देने को ही single click कहा जाता है। single click की सहायता से ही menu को खोलना, item को सेलेक्ट करना, तथा link को खोलना ही आदि कार्य किए जाते है।

●Double Click- mouse के Left बटन को एक साथ दो बार जल्दी से दबाने की क्रिया को Double Click कहाँ जाता है। इसके द्वारा किसी भी item, file, program आदि को खोला जाता है। यह शॉर्टकट key की तरह कार्य करता है। इसकी सहायता से किसी item पर दो बार click करके उसे सेलेक्ट किया जाता है।

●Triple Click- mouse के Left बटन को एक साथ तीन बार दबाने की प्रक्रिया को Triple Click कहा जाता है। इसका उपयोग ज्यादा नहीं किया जाता है। इसका उपयोग किसी पैराग्राफ को पूरा सेलेक्ट करने के लिए किया जाता है।

(4) Scrolling- mouse के उपयोग से आप बड़े डॉक्यूमेंट पूरा देखने के लिए उसे ऊपर-नीचे Scroll कर सकते हैं। अगर हम computer की भाषा मे कहे तो mouse wheel द्वारा Document Webpage को ऊपर- नीचे सरकाना Scrolling कहलाता है। ऊपर की ओर सरकाने के लिए Wheel को अपनी ओर घुमाना पड़ता है तथा नीचे की ओर घुमाने के लिए बाहर की ओर घुमाना पड़ता है।

(5) Dragging and Dropping- mouse के द्वार computer स्क्रीन पर उपलब्ध किसी item को एक जगह से दूसरी जगह पर रखा जा सकता है। इसके लिए Dragging and Dropping प्रक्रिया का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें user किसी डॉक्यूमेंट की आसानी से Drag And Drop कर सकते है।

(6) Open or Execute a Program- mouse के उपयोग से user किसी भी file, program, folder, icon को click करके open ओर execute कर सकता है।

(7) mouse कर्सर को move करना - ये primary function है जिसका काम mouse कर्सर को स्क्रीन पर मूव कराना होता है।

(8) Hover- mouse की सहायता से objects के ऊपर Hover कर सकते है। Hover का मतलब होता है जब आप किसी object के ऊपर कर्सर को लाएंगे तो उस object से संबंधित जो भी जानकारी होगी वह open हो जाएगी।

Mouse की परिभाषा ( Definition of mouse in hindi) -

Mouse एक छोटा सा pointing डिवाइस होता है जिसे computer यूजर इस्तमाल करता है। एक mouse के दो या तीन बटन हो सकते है। जिन्हें दाया-बाया तथा मध्य बटन कहा जाता है। mouse के नीचे एक रबर का बॉल लगा होता है।

जब किसी समतल सतह पर mouse या mouse पेड को घुमाया जाता है तब यह रबर का बॉल घूमता है। तथा इसकी गति और दिशा मॉनिटर पर mouse पॉइंटर की गति और दिशा में परिवर्तित हो जाती है। mouse का उपयोग यूजर surface पर रख के करते है। इसकी मदद से Display स्क्रीन पर point, select, click , drag, drop ओर scroll किया जा सकता है। mouse को pointer के नाम से भी जाना जाता है।

Mouse pointer/cursor के विभिन्न रूप और उनका मतलब -

अब आप सब माउस के बारे में जान चुके है। यह क्या है और इसके कितने प्रकार होते है। अब हम जानते है mouse को computer स्क्रीन पर कैसे पहचाना जाता है।
Mouse एक pointer डिवाइस है mouse को हम cursor के नाम से भी जानते है। माउस pointer कंप्यूटर स्क्रीन पर अपनी पोजीशन के हिसाब से अपना रूप बदलते रहते है। mouse किस समय अपना रुप परिवर्तित करते रहते है यह हम नीचे आराम से जानेंगे।
cursor ki image

Mouse के टचपैड को क्या कहा जाता है। -

हम mouse के टचपैड को Trackpad, glide point, glidepad आदि कह सकते है।

Touchpad क्या है। -

Touchpad एक प्रकार का इनपुट डिवाइस होता है। लेपटॉप में ये यूजर को allow करता है। लेपटॉप के टचपैड में cursor को मूव कराने के लिए यूजर अपनी उंगलियों का उपयोग करता है। इन्हें external mouse के स्थान पर भी उपयोग किया जा सकता है

Conclusion -

आज इस पोस्ट में हमने आपको mouse क्या होता है। तथा इसका उपयोग कहा और कैसे होता है के बारे में आपको पूरी जानकारी दी है। में आशा करता हु की आप लोगो को mouse क्या होता है के बारे में अच्छे से समझ आया होगा। अगर यदि आपको अभी भी इस पोस्ट को लेकर कुछ डाउट्स है या  हमारी इस पोस्ट में कुछ सुधार करने की जरूरत है या इस पोस्ट से जुड़ा कोई भी सवाल आपके मन मे है तो आप हमे नीचे comments करके जरूर बताये।

ओर यदि आपको हमारी पोस्ट mouse क्या होता है हिंदी में अच्छी लगी हो ओर आपको इससे कुछ सीखने का मिला हो तो हमे comments करके आप जरूर बताए।ओर इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ whatsapp group , facebook ओर अन्य social networks site's पर शेयर करे और इस जानकारी को अन्य लोगो तक पहुचाने में हमारी मदद करे।
 
अभी के लिए बस इतना ही।  हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद। आपका दिन शुभ हो।

Show comments
Hide comments

2 comments:

  1. sir,I am a big fan of you, I see your post daily and get very good information.
    it, please approved it
    https://shivatechnical.com/input-devices/

    ReplyDelete
  2. sir,I am a big fan of you, I see your post daily and get very good information.
    it, please approved it

    https://shivatechnical.com/input-devices/

    ReplyDelete